CM दरबार पहुंचा जलमग्न साढ़े 5 हजार एकड़ भूमि का मामला, चंडीगढ़ में कल अहम बैठक

0

दर्जनों अधिकारीयों की उपस्थिति में जिला उपायुक्त के निर्देश पर मौका निरिक्षण कर बनाई आज रिपोर्ट
बादशाहपुर, 8 जनवरी (अजय) : परिवर्तन संघ के अध्यक्ष राकेश दोल्ताबाद गुरुग्राम द्वारा मुख्यमंत्री के नाम भेजे गये एक ज्ञापन को प्रमुखता से लेते हुए हरियाणा सरकार के अतिरिक्त मुख्य सचिव एवं वितायुक्त राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग चंडीगढ़ द्वारा जिला प्रशासन गुरुग्राम को आदेश जारी करते हुए इस विषय में मौके का निरिक्षण कर रिपोर्ट पेश करने के निर्देश दिए गए है। प्राप्त जानकारी के अनुसार आज जिला उपायुक्त ने संज्ञान लेते हुए सम्बन्धित विभागीय अधिकारियों को निर्देश कर मौके का निरिक्षण कर रिपोर्ट बनाई है। जानकारी के अनुसार इस मामले में कई विभाग के दर्जनों अधिकारी मोजूद रहे। सभी अधिकारीयों ने पैदल पैदल घूम कर मौके का निरिक्षण किया। इस मामले में बुधवार को चंडीगढ़ में विचार विमर्श किया जाना है। जिस पर कोई बड़ा फेसला लिया जा सकता है। इस पर सरकार की तरफ से पहले ही साफ हो चूका है कि सरकार द्वारा नजफगढ़ ड्रेन के साथ बांध बनाने का कार्य किया जाएगा।
30 दिसम्बर को हुई थी महापंचायत :
इस मामले मे दर्जर्नो गांव के सैकड़ो किसानों की उपस्थिति मे धनवापुर मे महापंचायत हुई थी। पंचायत मे दिल्ली के नजफगढ़ ड्रेन के साथ लगती करीब 5 हजार 500 एकड़ भूमि का मामला उठाया था। उसमें कहा गया कि अकेले 1700 एकड़ भूमि बुढ़ेडा गाँव की है। जिसके अतिरिक्त ड्रेन का पानी ओवरफ्लो होने से चंदु, धनकोट, खेडक़ी, दोल्ताबाद, मोहम्मदहेड़ी, धर्मपुर, माक्डौला सहित अन्य गांव की कृषि योग्य जमीन में पानी भरने से फसल हर साल बर्बाद हो रही है। जिस पर जल्द से जल्द बांध बनाया जाना चाहिऐ।
वर्जन :
इस सन्दर्भ में मुख्यमंत्री को किये गये आवेदन के प्रार्थी परिवर्तन संघ के अध्यक्ष राकेश दोलताबाद का कहना है कि उन्होंने मुख्यमंत्री के सामने गुहार लगाई है कि वर्षो से जलमग्न हुई फसल योग्य भूमि को बचाया जाए। जिस आज 70-80 अधिकारीयों ने मौके का निरिक्षण है। जिस पर बुधवार आज चंडीगढ़ में बैठक होनी है, उन्हें उम्मीद है जल्द बांध बनेगा और अधिकृत होने वाली भूमि का किसानों को उचित मुआवजा मिलेगा।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here