नुक्कड़ नाटक “जल ही जीवन है “

0

 

रॉयन इंटरनेशनल स्कूल,सेक्टर४०,गुरुग्राम सदैव समाज सेवा तथा प्राकृतिक सम्पदा को सुरक्षित रखने में विश्वास रखता है| आदरणीय  चेयरमैन महोदय जी केपर्यावरणसम्बंधित दृष्टि चिन्ह को जीवन में अपनाते हुए रॉयन विद्यालय ने एक बार फिर समाज कोजल बचाओका नारा देते हुए एक नुक्कड़ नाटक का आयोजन किया | जल ही जीवन है का सन्देश  लेकर नुक्कड़ नाटक की मण्डली यानि रॉयन के नन्हे सितारेगलेरियाबाजार गए तथा अपने नुक्कड़ नाटक के द्वारा बच्चों ने जनजन को यह सन्देश दिया कि

जल को व्यर्थ बहाओ ,

 जल को कल के लिए बचाओ |”

इस नाटक के द्वारा बच्चों ने लोगो को सन्देश दिया कि किस प्रकार हम अपनी रोज़मर्रा की ज़िन्दगी  में  इस अमूल्य जल को बेकार बहाते है तथा उन्होंने यह भी बताया की किस प्रकार छोटेछोटे कदमो के द्वारा हम इस मूल्यवान जल को बचा सकते है |

इस नाटक के द्वारा बच्चों ने भविष्य की झांकी भी प्रस्तुत की  कि अगर हम इसी तरह जल को व्यर्थ करते रहे और इसे न बचाया गया तोह आने वाला जीवन कैसा होगा ……..

आस-पास के सभी लोगो ने इस नाटक की बहुत सराहना की तथा बच्चों द्वारा दिए गए सन्देश का सम्मान किया |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here