बच्चपन से पचपन की नीव रखा रहा KDM स्कूल : अनिल सैनी

0

गुड़गांव/बादशाहपुर, 8 फरवरी (अजय) : बचपन से लेकर बुजुर्ग अवस्था या फिर कहे पचपन (55) वर्ष तक के भागदौड़ और प्रगति करने वाले उम्र के पड़ाव को पार करने के लिए हमे शिक्षा की बेहद आवश्यकता होती है और उस आवश्यकता को पूरा करने के लिए बच्चपन से पचपन तक के सफर को सुहाना और प्रगतिशील बनाने के लिए उच्च शिक्षा प्रदान करने हेतु केडीएम स्कूल के अनुभवी अध्यापकों द्वारा बच्चों के लिए एक बड़ा प्रयास किया जा रहा है कहते है नीव मजबूत होती है तो पूरी इमारत मजबूत होती है उसी बात को ध्यानार्थ बच्चों का बचपन मजबूत करने के लिए केडीएम स्कूल में बच्चों को आधुनिक तरीके से शिक्षा प्रदान करने का कार्य किया जा रहा है उक्त बातें केडीएम स्कूल के मेनेजिग डायरेक्टर अनिल सैनी ने बोलते हुए कही उन्होंने कहा कि बच्चों के लिए खेल मैदान के अलावा खेलों को बढ़ावा देने के लिए आधुनिक तरीके से उपकरण तथा बच्चों को तकनीकी रूप से मजबूत करने के लिए कम्प्यूटर क्लास के सात प्रोजेक्टर क्लास दी जाती है ताकि बच्चों में टेक्निकल ज्ञान अधिक से अधिक प्राप्ति हो सके इस तरह के अन्य प्रयासों से आज केडीएम स्कूल के बच्चों को उच्च शिक्षा प्रदान की जा रही है जिसके उदाहरण बच्चे यहां से पढ़ कर अपने पैरों पर खड़े होकर नौकरी लगते हुए जब उनसे आशीर्वाद लेने आते है तो उन्हें बड़ा ही गर्व मेहसूस होता है

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here